1983 विश्व विजेता भारतीय टीम के सदस्य यशपाल शर्मा का निधन, सेमीफाइनल में खेली थी शानदार पारी

भारतीय टीम को 1983 विश्वकप जीताने में अहम भूमिका निभाने वाले खिलाड़ी यशपाल शर्मा का निधन हो गया है। यशपाल शर्मा का निधन 66 वर्ष की उम्र में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। यशपाल शर्मा अपनी बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने भारत के लिए कई मैचों में शानदार पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई। लेकिन दिल का दौरा पड़ने के कारण वह इस दुनिया को छोड़कर चले गए।

यशपाल शर्मा का जन्म 11 अगस्त 1954 को पंजाब के लुधियाना शहर में जन्म हुआ। यहां ही उन्होंने क्रिकेट की शुरूआती बारिकियां सीखीं। यशपाल शर्मा ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की शुरूआत पाकिस्तान जैसी दिग्गज टीम के सामने साल 1978 में की। इसके बाद इंग्लैंड में खेले गए क्रिकेट के तीसरे विश्वकप में वह भारतीय टीम का हिस्सा रहे। विश्वकप में यशपाल शर्मा ने कई मौकों पर टीम में अहम योगदान दिया। लेकिन विश्वकप जीतने के दो साल बाद ही यानि कि 1985 में उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

1983 के विश्वकप के सेमीफाइनल में खेली शानदार पारी

अगर यशपाल शर्मा सेमीफाइनल में अर्धशतकीय पारी ना खेलते तो शायद ही भारतीय टीम फाइनल में जगह बना पाने में कामयाब हो पाती। यशपाल शर्मा ने विश्वकप के सेमीफाइनल में 61 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली। इस पारी की मदद के कारण ही भारतीय टीम फाइनल में जगह बना पाई। जहां भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज को हराकर पहली बार क्रिकेट का खिताब अपने नाम किया। ​

कभी नहीं हुए शून्य पर आउट

यशपाल शर्मा ने अपना क्रिकेट करियर 1978 में शुरू किया और 1985 में खत्म किया। लेकिन इस दौरान दुनिया का कोई भी गेंदबाज यशपाल शर्मा को शून्य पर आउट नहीं कर पाया। यशपाल शर्मा अपनी विकेट की कीमत लगाते थे और जल्दी विकेट नहीं गंवाते थे।

करियर

यशपाल शर्मा ने अपने करियर में 37 टेस्ट मैच खेलें हैं। जिसमें उन्होंने 1606 रन बनाए हैं। इस दौरान उन्होंने 2 शतक और 9 अर्धशतक लगाए हैं। अगर उनके वनडे क्रिकेट की बात करें तो उन्होंने 42 मैच खेलें हैं जिनमें उन्होंने 883 रन बनाए हैं। उन्होंने वनडे करियर में 4 बार अर्धशतकीय पारियां खेलीं लेकिन वह एक बार भी शतक में तब्दील नहीं कर पाए। वहीं यशपाल शर्मा ने दोनों ही फॉर्मेट में 1-1 विकेट लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *