WTC फाइनल मैच के लिए न्यूजीलैंड टीम का हुआ ऐलान, यह दो दिग्गज खिलाड़ी टीम में शामिल

आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल का मुकाबला इंग्लैंड के साउथैम्टन के एजिस बाउल मैदान में 18 से 22 जून के बीच में मुकाबला खेला जाना है। इस फाइनल मैच के लिए दोनों टीमें जमकर अभ्यास कर रही हैं। न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने फाइनल मुकाबले के लिए अपनी टीम की घोषणा कर दी है। न्यूजीलैंड क्रिकेट ने टेस्ट विश्वकप के लिए 15 सदस्यीय टीम का ऐलान किया है और इसमें केन विलियमसन को कप्तान सौंपी हैं।

न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड ने फाइनल मैच के लिए अपने सबसे अनुभवी खिलाड़ियों को मौका दिया है जिन्होंने न्यूजीलैंड के लिए कमाल का प्रदर्शन करके दिखाया है। पहली बार टेस्ट क्रिकेट में इतने बड़े स्तर पर कोई टूर्नामेंट खेला जा रहा है। इस मुकाबले के लिए इंग्लैंड के खिलाफ चोटिल हुए केन विलियमसन को मौका दिया है। क्योंकि इंग्लैंड के खिलाफ दो मैचों की सीरीज में पहले मैच में विलियमसन को कोहनी में चोट लग गई थी जिस कारण उन्हें दूसरे टेस्ट मैच से बाहर बैठना पड़ा था। वहीं बीजे वॉटलिंग भी चोट के कारण बाहर हो गए थे उन्हें भी टीम में शामिल कर लिया है। यह दोनों ही बल्लेबाज भारतीय टीम के लिए मुश्किल खड़ी कर सकते हैं।

ऐसी है न्यूजीलैंड की टीम- केन विलियमसन (कप्तान), टॉम लैथम, टॉम ब्लैंडल, रॉस टेलर, बीजे वॉटलिंग, विल यंग, डेवॉन कोन्वे, कॉलिन डी ग्रैंडहोम, हैनरी निकोल्स, टिम साउदी, ट्रैंट बोल्ट, नील वैगनर, एजाज पटेल, काइल जैमीसन, मैट हैनरी

न्यूजीलैंड की टीम आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच खेलने के लिए बर्मिंघम से साउथैम्टन पहुंच गई है। न्यूजीलैंड के कोच ने कप्तान केन विलियमसन और वॉटलिंग की चोट को लेकर जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि दोनों खिलाड़ियों को चोट लग गई थी जिस कारण उन्हें आराम दिया गया था। अब वह पूरी तरह फिट हो चुके हैं और भारत के खिलाफ मैदान पर उतरने के लिए तैयार हैं।

वहीं इस टीम में टॉम ब्लैंडल और डेवॉन कोन्वे ऐसे जो नाम हैं जिन्हें देखकर काफी हैरान हुई। इन्हें हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में मौका दिया गया था। जहां दिन दोनों ही खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन किया था। लेकिन किसी को भी यह अंदाजा नहीं था कि न्यूजीलैंड की टीम फाइनल मैच के लिए इन्हें मौका देगी।

गौर हो कि हाल ही में न्यूजीलैंड की टीम ने इंग्लैंड को उसी की धरती पर 22 साल बाद टेस्ट सीरीज में मात दी है। न्यूजीलैंड की टीम को इंग्लैंड के साथ हुई सीरीज के साथ फायदा मिल सकता है क्योंकि न्यूजीलैंड ने अपने सभी खिलाड़ियों को परख लिया है। वहीं भारतीय टीम अभ्यास कर रही है। न्यूजीलैंड की टीम को टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में अधिक मदद मिलेगी। क्योंकि उनके बल्लेबाजों और गेंदबाजों ने अच्छी क्वालिटी टीम के खिलाफ मैच खेला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *